Google ads

थ्री फेज मोटर कनेक्शन कैसे करें | 3 phase motor connection in Hindi

थ्री फेज मोटर कनेक्शन कैसे करें | 3 phase motor connection in Hindi
थ्री फेज मोटर कनेक्शन कैसे करें | 3 phase motor connection in Hindi
3 phase motor connection in Hindi

3 phase motor connection : हम मैं से अधिकतर लोग यह कंफ्यूजन में रहते हैं कि वह अपने घर में थ्री फेज करेंट लगाएं या फिर सिंगल फेज करेंट इस्तेमाल करें, मोटर सिंगल फेज इस्तेमाल करें या थ्री फेज और अगर थ्री फेज इस्तेमाल करेंगे तो उसका कनेक्शन कैसे करें, तो दोस्तों फ़िक्र करने की कोई बात नहीं है मैं हूं ना, तो थ्री फेज मोटर के बारे में जाने से पहले हमें यह जानना होगा कि 3 फेज करेंट क्या है, इसे क्या खतरा है इससे कहां इस्तेमाल किया जाता है तो चलिए जानते हैं .

Read this also
  1. MCB box kya hai, Distribution board components
  2. Ceiling fan winding kaise kiya jata hai
  3. बिग बैंग थ्योरी विज्ञान क्या है? What is Big Bang Theory science? index of big bang theory kya hai
  4. NASA has said that Alien has come to Earth | Alien ki sachi kahani
  5. क्या होगा अगर 5 सेकंड के लिए ऑक्सीजन गायब हो जाए | What if oxygen for 5 seconds disappears
  6. How do the projector work? Let's know some interesting things
  7. एलियन प्लेनेट से धरती कैसा दिखेग | Alien planet se Dharti kaisa dikhega
  8. एस्ट्रॉयड क्या है क्या यह हमारे लिए खतरा है | Asteroid kya hai, Dhumketu kya hai
  9. 9xmovies || 9xmovie 9xmovies 2019 Bollywood Movies Hindi Dubbed 300mb 720p HD movie Download
हमारे घरों में जो बिजली प्रभाव होता है वह AC करेंट होता है मतलब अल्टरनेटिंग करेंट होता है, जो हमारे सभी उपकरणों को चलाता है, और इस एसी करेंट में होता है सिंगल फेज और 3 फेज, सिंगल फेज में 2 वायर होता है और 3 फेज में 4 वायर होते हैं, यानी कि सिंगल फेज करेंट में एक फेज और एक न्यूट्रल होता है और 3 फेज करेंट में तीन फेस और एक न्यूट्रल होता है, अगर आप कोई छोटा-मोटा चीजें चलाना चाहते हैं तो आप सिंगल फेज को इस्तेमाल कर सकते हैं, लेकिन अगर आप एक इंडस्ट्री या बहुत सारे उपकरणों को चलाना चाहते हैं तो आपको थ्री फेज करंट की जरूरत पड़ेगी, क्योंकि सिंगल फेज करंट ज्यादा लोड नहीं संभाल पाता है, इसकी क्षमता लिमिटेड है, सिंगल फेज करंट में 230 वोल्टेज होता है और 3 फेज में 440 वोल्टेज होता है .

थ्री फेज मोटर कनेक्शन कैसे करें | 3 phase motor connection in Hindi
3 phase motor connection in Hindi

थ्री फेज मोटर कनेक्शन कैसे करें | 3 phase motor connection in Hindi

इस हिसाब से आप जान चुके होंगे कि कौन सा करेंट इस्तेमाल करना चाहिए, और उसी तरह अगर आप अपने घर के लिए मोटर इस्तेमाल करना चाहते हैं तो सिंगल फेज मोटर को ही इस्तेमाल करें, लेकिन यह ध्यान रखना है कि चाहे आप का घर हो या फिर ऑफ़िस में जो करंट इस्तेमाल हो रहा है उसका Watt कितना है, अगर आपके पूरे उपकरणों का लोड यानी Watt 7.5 तक है तो आप सिंगल फेज करेंट को इस्तेमाल कर सकते हैं, और अगर इससे ज्यादा है तो आपको थ्री फेज लेने की जरूरत है .

थ्री फेज मोटर कनेक्शन

यह बड़ा आसान है, जैसे कि आप फोटो में देख सकते हैं, कि रेड वाला तार रेड की जगह पर ब्लू वाला ब्लू के जगह पर और येलो वाला तार येलो की जगह पर कनेक्शन करना है, ध्यान देने वाली बात यह है कि वायर उल्टा ना लगाएँ, मतलब लाल वाला तार पीला में ना लगाएँ और पीला वाला ब्लू में ना लगाएँ, इस तरह कनेक्शन करने से आपका मोटर नहीं चलने वाला, और साथ में जो स्टार्टर या ऑटोमेटिक सेंसर लगे होंगे वह भी नहीं चलेंगे, फोटो यहां देखें .

बस इसी तरह आप एक इलेक्ट्रिशियन बन सकते हैं, लेकिन ध्यान दे कि कहीं लालच में आकर आप मोटर के स्टार्टर को ही छेड़छाड़ करने ना लग जाए, क्योंकि स्टार्टर का कनेक्शन अलग होता है और वह आपका काम नहीं है, आपको सिर्फ तीन रंग के वायर को तीनों जगह पर लगाना है, थ्री फेस मोटर अलग अलग अलग अलग HP यानि कैपेसिटी में आते हैं, और सब का कनेक्शन एक ही है .

थ्री फेज मोटर कनेक्शन कैसे करें | 3 phase motor connection in Hindi

आमतौर पर घरेलू चीजों के लिए जरूरत नहीं है, लेकिन आजकल अक्सर घरों में ज्यादा उपकरण मौजूद होते हैं, तो ऐसे में थ्री फेस कनेक्शन लेना चाहिए तो दोस्तों उम्मीद है आपको आर्टिकल पसंद आया होगा हम से जुड़े रहने के लिए धन्यवाद आपका दिन शुभ हो .

थ्री फेज मोटर कनेक्शन कैसे करें | 3 phase motor connection in Hindi


आप आपका सवाल कमेंट बॉक्स पर पूछ सकते हैं .
थ्री फेज मोटर कनेक्शन कैसे करें | 3 phase motor connection in Hindi थ्री फेज मोटर कनेक्शन कैसे करें | 3 phase motor connection in Hindi Reviewed by Science Fiction on July 26, 2019 Rating: 5

No comments:

Google

Powered by Blogger.