Google ads

मां क्या है हमारे जीवन में उनकी क्या भूमिका है, What is mother.





मां शब्द सुनते ही यह गाना याद आता है |
कितनी अच्छी है ,
तू कितनी भोली है ,
प्यारी प्यारी है ओ मां ओ मां .
यह जो दुनिया है ,
यह कांटों का वन है.
तू फुलवारी है , ओ मां ओ मां .
हमारे जीवन में सबसे प्रिय इंसान हमारी मां होती है , मां शब्द में इतनी शक्ति है कि यह शब्द सुनते ही हमारे रोंगटे खड़े हो जाते हैं हम चाहे कितने भी निराश क्यों ना हो मां को याद करते ही हमारी निराशा पल भर में दूर हो जाती है आज की कहानी मां के व्यक्तित्व का एक उदाहरण है.
रब्बर और पेंसिल की कहानी .



एक दिन एक पेंसिल ने रब्बर से कहा मुझे माफ कर दो . रब्बर ने यह सुनकर कहा क्यों क्या हुआ तुम माफी क्यों मांग रही हो ? पेंसिल ने कहा मुझे यह देख कर दुख होता है कि तुम्हें मेरे कारण तकलीफ पहुंचती है जब कभी मैं कोई गलती करता हूं तब तुम हमेशा उसे सुधार देते हो , मेरी गलतियों को मिटाते मिटाते तुम खुद को तकलीफ पहुंचाते हो और तुम धीरे-धीरे छोटे हो जाते हो और अपना अस्तित्व ही खो देते हो . तब रब्बर ने पेंसिल से कहा तुम सही कहते हो लेकिन मुझे इस बात का कोई दुख नहीं क्योंकि मेरे जीवन का उद्देश्य यही है . 


मेरे जीवन का यही उद्देश्य है कि जब कभी तुम गलती कर दो तो मैं तुम्हारी मदद करूं, मुझे पता है कि मैं 1 दिन चला जाऊंगा लेकिन मैं तुम्हें उदास नहीं देख सकता मैं चाहता हूं कि मेरे जाने से पहले मैं तुम्हें ग़लतियां ना करना एवं गलतियां सुधारना सिखा दूं ताकि जब मैं ना रहूं तो तुम जीवन की यात्रा में कभी भी खुद को कमजोर महसूस ना करो . पेंसिल और रबड़ के बीच की यह बातें बहुत ही प्रेरणादायक है . हमारी मां भी इरेज़र की तरह हमारी गलतियों को सुधारने के लिए हमेशा तैयार रहती है कभी कभी हमारी वजह से उन्हें दुख भी पहुंचता है लेकिन वह हमारी खुशी के लिए अपना पूरा जीवन दांव पर लगा देती हैं .


जो लोग पढ़ाई या नौकरी के लिए किसी और शहर में रहते हैं , वह वहां से दूर रहने का दर्द जानते हैं वह लोग मां को हर पल याद करते हैं और शायद कभी-कभी उनके मन में यह गाना गूंजता रहता है या फिर यह गाना सुनकर उनकी आंखों से आंसू निकल आते हैं , आज तक उन्होंने हमारी खुशी के लिए हर संभव कोशिश की लेकिन अब हमारी बारी है कि हम उनकी खुशी के लिए हर संभव प्रयास करें .
आइए आज से और अभी से एक प्रतिज्ञा लें कि हम कभी भी अपने माता पिता को दुख नहीं पहुंचाएंगे .
दोस्तों यह आर्टिकल कैसा लगा हमें कमेंट बॉक्स में जरुर सूचित करें और इसी तरह का खबरें पढ़ने के लिए हमें फॉलो करें .
मां क्या है हमारे जीवन में उनकी क्या भूमिका है, What is mother. मां क्या है हमारे जीवन में उनकी क्या भूमिका है, What is mother. Reviewed by Science Fiction on June 27, 2019 Rating: 5

No comments:

Google

Powered by Blogger.