Google ads

ट्रेन के टॉयलेट बना एक्सीडेंट का कारण | The Toilet reason for making the train accident




ट्रेन के टॉयलेट बना एक्सीडेंट का कारण | The Toilet reason for making the train accident


नमस्कार दोस्तों आज हम बात करेंगे कुछ कीड़े टाइप लोगों के बारे में यह लोग वो हैं जो मोदी जी के स्वच्छ भारत अभियान को बीमार कर रखें हैं, यह लोग वो हैं जो एक पौधे को ना बढ़ने देते हैं हैं और ना ही उसे मरने देते हैं, यह लोग वो हैं जो टट्टी करके फिर पीछे मुड़कर देखते हैं कि कहीं उनके पजामे में रखे हुए ₹1 गिर ना गया हो, मेरे ख्याल से इन लोगों को कचरे के कीड़ों के साथ रखना चाहिए, साले पर्यावरण पर हगने वाले प्राणी दुआ है मेरी दुआ है मेरी कि तुम लोग हगने जाओ और पानी का लोटा है बंदर लेकर भाग जाए .

आज का हमारा विषय है पर्यावरण के बारे में, चलो अब कुछ ज्ञान पढ़ लेते हैं, सबसे पहले बात करते हैं उन लोगों के बारे में जो लोग अपने घर को गंदा करते हैं, थोड़ा ना-समझ होते हैं वो लोगों को कुछ बातें नजर नहीं आती, जहां लिखा होता है यहां पेशाब करना मना है साले वहीं पेशाब तो करते ही हैं लेकिन खड़े-खड़े कुछ और भी कर लेते हैं .


हमारे भारत में मोदी जी ने स्वच्छ भारत अभियान शुरू किया है और साथ ही घर घर में टॉयलेट बनाने कि व्यवस्था भी किया हुआ है, लेकिन ट्रेन के पटरी के साइट पर आज भी लोग टॉयलेट कर रहे हैं और उन्हें देखकर कुछ ज्यादा ही एक्सीडेंट होने का संभावना बढ़ जाता है, आप सब यहां पूछोगे कैसे, तो मान लो आप सुबह उठकर भगवान को दर्शन करके नहा कर नाश्ता करके फलाना डिंग-का जो भी है खत्म करके पवित्र फ्रेश मोड में ऑफ़िस के लिए निकलोगे, और ट्रेन में सफर करते समय पटरी पर दिखेंगी यह नज़ारे, नहीं महिलाओं के लिए तो एक बार सोचा जा सकता है यह उन लोगों का काम का चीज है, लेकिन हम क्या करेंगे साले इससे अच्छा तो इंटरनेट पर वीडियो देख लेते हैं, अगर गलती से ड्राइवर का आँख इन चीजों पर पड़ गया तो एक्सीडेंट तो पक्का है .

तुम्हें क्या लगता है देश के सारे ट्रेन एक्सीडेंट ऐसे ही हुए हैं, नहीं नहीं नहीं नहीं नहीं असली वजह तो यह है, यार तुम लोग कहोगे कि यह सरकार की गलत ही है, अ रे घंटा हर साल हर राज्य मैं सरकार लाखों रुपए सिर्फ टॉयलेट बनाने के लिए खर्च करता है, और इसमें गवर्नमेंट ही क्यों अपना टाँग घुस आए तुम जिस समाज में रहते हो उसे साफ रखने की ज़िम्मेदारी भी तुम्हारे ही है, अपने घर तो बड़े सजा कर रखते हो तो फिर पर्यावरण क्यों नहीं .



तो दोस्त इस दुनिया में बहुत से ना समझ लोग हैं जिन्हें समझाना जरूरी है, अगर ऐसे ही चलता रहा तो आने वाले दिनों में भारत कभी आगे बढ़ी नहीं पाएगा, भले ही हमारा देश दुनिया की सबसे बड़े ताक़तवर देशों में से एक है, भले हमारा देश में ऐसे ऐसे हथियार हैं जो दूसरे देशों के नामो निशान मिटा सकता है, लेकिन हमारे देश के लोग एकत्रित नहीं है, जिस दिन हमारे देश की जनता साथ में होगा उस दिन हमारा देश दुनिया का नंबर वन देश में से एक होगा .





दोस्तों आज के लिए इतना ही अगर आप कोई आर्टिकल पसंद आया है तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करें, अपने दिल की बातें कमेंट करके ज़रूर बताएं, और अगर आगे इसी तरह का आर्टिकल की नोटिफैक्शन पाना चाहते हैं तो हमें सब्सक्राइब ज़रूर करें .
ट्रेन के टॉयलेट बना एक्सीडेंट का कारण | The Toilet reason for making the train accident ट्रेन के टॉयलेट बना एक्सीडेंट का कारण | The Toilet reason for making the train accident Reviewed by Science Fiction on June 28, 2019 Rating: 5

No comments:

Google

Powered by Blogger.